रुड़की/भगवानपुर। खनन माफिया का खौफ मे कोई बदलाव नही आया है। चाहे प्रशासन कुछ भी कर ले। या कितना चुस्ती दिखाये। प्रशासन की लाख कोशिशों के बावजूद क्षेत्र की नदियों से अवैध खनन नहीं रुक पा रहा है। खहन माफियाओ का हौसला इतना बुलंद है, कि वह किसी पर भी हमला करने से गुरेज नही करते है। आए दिन यह घटना नज़र आ ही जाती है। यह बात खनन को लेकर स्पस्ट दिखाई पड़ती है। जिले की तमाम नदियों में दिन-रात बेखौफ और धड़ल्ले से खनन किया जा रहा है। लेकिन शासन-प्रशासन के संबंधित अधिकारियों को कुछ दिखाई नहीं दे रहा है। अवैध खनन के लिए बनी टास्क फोर्स कहीं दिखाई नहीं दे रही है। अवैध खनन करने वाले इतने बेखौफ हैं कि वह लोगों पर हमले कर रहे हैं। यदि कोई उनके काम में रुकावट डालता है तो वह उसे रास्ते से हटाने की कोशिश करते हैं।

देर रात घाड़ क्षेत्र खनन रोकने पहुंचे ग्रामीणों पर खनन माफिया ने दबंगई दिखाते हुए पत्थर बरसाने शुरू कर दिए। पत्थर लगने से दो ग्रामीण घायल हो गए, जबकि बाकी ग्रामीणों ने बामुश्किल भागकर जान बचाई। ग्रामीणों ने बुग्गावाला थाना पहुंचकर पुलिस को तहरीर दी। लेकिन, पुलिस इससे इंकार कर रही है। विस्तार से देखें

प्रशासन और माफिया की मिलीभगत के चलते डर के साये में हैं ग्रामीण

नदियों में दिन-रात बेखौफ खनन

सौजन्य से: अमर उजाला ब्यूरो

Advertisements