मध्य प्रदेश मे पन्ना ज़िले के कलेक्टर ने पन्ना खदान तथा हीरा खदानों का निरक्षण किया। ज़िला के कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि खदान करवाने वाले सभी मालिक मजदूरो का विशेष ध्यान रखें। उन्हे जरूरी सुविधाए मुहैया कारवाई जाए। बचाव के लिए मास्क का उपयोग तथा धूल को रोकने के लिए पानी का छिड़काव किया जाए। समय-समय पर मजदूरो का नियमित परीक्षण करवाया जाय। जिससे उनका स्वास्थ्य सही रहे।

सभी खदाने केवल स्वीकृत क्षेत्र मे ही चालू करवाई जाए। खदानों मे मुनारे अनिवार्य रूप से बनवाए। नियत सीमा क्षेत्र का उलंघन करने वालों पर अधिकारी कड़ी कार्यवाही करे। कलेक्टर ने हीरापुर तथा माँझा के पत्थर खदानों के सीमांकन के निर्देस दिये। कलेक्टर ने दहलान चौकी मे 8 एकड़ निजी भूमि पर संचालित हीरा खदान का निरीक्षण किया। इससे निकले पत्थरों से खाखरी बनाई गयी है। हीरा खोदने के बाद भूमि को समतल करके खेती तथा वृक्षारोपण योग्य बनाया जाएगा। निरीक्षण करते समय एडीएम चन्द्रशेखर बालिम्बे,
एसडीएम अशोक ओहरी और संबन्धित अधिकारी मौके पर मौजूद थे।

Advertisements